किसान खेती

किसान और खेती के प्रति चेतना विकसित करें
ई-आई.एस.एस.एन.: 2348-2265

अंतर्राष्ट्रीय कृषि -पत्रिका

Kisaan Kheti

'Evolve Your Consciousness About Farmer and Farming'

वर्ष - २, अंक - ४ (अक्टूबर - दिसंबर) २०१५

(Volume–2, No.-4, October-December, 2015)

 

क्रम सं.

शीर्षक और लेखक

पृष्ठ सं.

i.

संपादकीय

 

1

फसल उत्पादन

1.         

मटर की उन्नत उत्पादन तकनीक

सीताराम देवांगन और घनश्याम साहू

2-4

2.         

टमाटर की खेती

शंकर लाल यादव और सीता राम कुमावत

5-7

3.         

भिंडी की खेती

शंकर लाल यादव और सीता राम कुमावत

8-9

4.         

सौंफ की उन्नत खेती और बीज उत्पादन क्रियांएँ

हेमंत कुमार मीना, रविन्द्र कुमार नागर, सुरेन्द्र कुमार और भूरी सिंह

10-12

5.         

अदरक की उन्नत खेती

सुनील प्रजापति, पी   के जैन अखलेश तिवारी   और ओमवीर   रघुवंशी  

13-15

6.         

उन्नत तकनीक अपनायें, लहसुन की उत्पादकता बढ़ायें

रविन्द्र कुमार नागर और हेमन्त कुमार मीना

16-18

7.         

फसल चक्र संघनन हेतु जायद सूरजमुखी : एक टिकाऊ विकल्प

गिरिराज गुप्ता, सुशीला विश्नोई और किशन लाल गुर्जर

19-23

पोषक तत्व प्रबंधन

8.         

वर्मीकम्पोस्ट : खेती के लिए उपयोगी  

श्वेता, सतपाल बलौदा और मनु  

24-26

9.         

पोषक तत्वों से भरपूर कम्पोस्ट खाद बनाने की वैज्ञानिक विधियां

महेंद्र शर्मा, राहुल चोपड़ा, अजित सिंह और हंसराम माली

27-31

पादप संरक्षण

10.       

रोगरहित उत्तम गुणवत्ता बीज हेतु सुरक्षित भण्डारण

अश्वनी कुमार, अनुजा गुप्ता, रविन्द्र कुमार और वी. के. महेश्वरी

32-34

11.       

गेहूं का मोल्या रोग – एक गम्भीर समस्या

एम् सिंह, ऐ. जैन और एस. चक्रवर्ती

35-38

12.       

अरहर के फली शेदक कीट और उनका एकीकृत प्रबंधन

निकिता शरद चन्द्र अवस्थी

39-40

13.       

कम लागत में समन्वित कीट रोग प्रबंधन

रविन्द्र कुमार नागर, हेमंत कुमार मीना, रामअवतार रेगर, भूरी सिंह और सुरेन्द्र कुमार

41-42

14.       

आँवला में लगने वाली मुख्य रोग एवं उनके निदान

विनिता दाहिमा और प्रियंका झाला

43-44

विविध

15.       

खेती में जैव उत्पादों का महत्व

राजेन्द्र सोनी और आर. पी. श्री वास्तव

45-48

16.       

आधुनिक युग में जैविक कृषि की आवश्यकता एवं महत्व

प्रियंका झाला, विनिता दाहिमा और विकल्प गुप्ता

49-50

17.       

जैविक कृषि   और जैविक   आगतें

मुकेश श्रीवास्तव, सोनिका पाण्डेय, मो. शाहिद, विपुल कुमार, अनुराधा सिंह, यतीन्द्र कुमार श्रीवास्तव

51-54

18.       

उष्मागत तनाव और गोपशुओं की प्रजनन समस्याएं

विपिन मौर्य

55-58